LATEST FLASH NEWS.....PM Modi, Israeli PM Netanyahu dedicate iCreate to the nation///राज्यसभा की 6 व विप की 11 सीटों पर अप्रैल मई में चुनाव, ///Rajnath Singh reviews progress of Cyber & Information Security //Thinking of organising mini-ministerial of WTO members: Prabhu///भारत-इजरायल का भाईचारा, मोदी बोले- शलोम, नेतन्याहू बोले-जय हंिदू///Radha Mohan Singh launched software to collect data for 20th Livestock Census.////Modi Govt brought Space technology to every Indian household: Dr Jitendra Singh///President presents Sangeet Natak Akademi’s fellowships and Akademi Awards ////Raksha Mantri takes to Skies in an IAF Su-30 MKI///आतंकवाद के खिलाफ वह अब बहुत ज्यादा सहन करने को तैयार नहीं -सुषमा स्वराज

KINDLY NOTE---OUR COUNTRY'S REPUBLIC DAY IS ON 26TH JANUARY. ON THIS OCCASION , THIS PORTAL WILL RELEASE COUNTRY'S Member of Parliaments and other dignitaries MESSAGES AND ARTICLES. IF ANY ONE WANTS TO WRITE ARTICLE OR MESSAGE THEN PL SEND MAXIMUM 200 WORD'S MATTER BEFORE 22nd JANUARY. SUBJECT IS '' COUNTRY'S CONSTITUTION AND WE'. MATTER SHOULD BE TYPED IN HINDI OR ENGLISH. FILE SHOULD BE IN MICROSOFT WORD OR WORD PAD. OUR EMAIL ID IS ...shekhar.sansad@gmail.com Mob. 09990934458- EDITOR

Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us

Detailed Discussion Forum
शिक्षा की मशाल को लगातार जलाए रखें


(Kind attention Parliament and MPs)
वर्ष 2018 पूरे देश, देशवासिसों और विश्व के लिए प्रगति और उत्साह लेकर आये मैं यही कामना करता हॅू।

बीतते वर्ष में हमने शिक्षा जगत की प्रगति को देखा है। शिक्षा के साथ ही हमने गरीबी को भी मिटते देखा है। अगर 1947 के भारत को इतिहास में देखा जाए तो हम पाते हैं कि हमारे अधिकांश देशवासी अशिक्षित थे। इसके कारण गरीबी थी और अत्याचार भी। हम शिक्षित नहीं थे तो हमारे सामनेआगे बढ़ने के मौके भी नहीं थे। उस वक्त जो शिक्षित थे उन्होंने ही देश की राजनीति मेंस्थान बनाया। जो शिक्षित थे उन्हीं के हाथों में राजनीति और व्यवस्था तथा न्यायपालिका की कमान थी। लेकिन हमारे पूर्वजों ने शिक्षा के महत्व को समझ लिया और उन्होंने उस वक्त अपनी वर्तमान पीढ़ी को शिक्षा के क्षेत्र में आगे लाने का प्रयास किया और आज उसका परिणाम हमारे सामने है। आज देश की करीब 78 प्रतिशत आबादी शिक्षित है और इसी कारण देश ही नहीं बल्कि विश्व में भी हिन्दुस्तान की पताका फहरा रही है। महिलाएं भी शिक्षा क्षेत्र में आगे हैं और देश विकास कर रहा है।

मैं एक बार फिर से देशवासियों से आग्रह करूंगा कि शिक्षा की मशाल को लगातार जलाए रखें। जिस दिन देश शत-प्रतिशत साक्षर होकर उच्च शिक्षा में आगे बढ़ जाएगा वह दिन हमारे लिए स्वर्णिम दिन होगा।

===
Writer's Details
डा.पी.एन.अरोड़ा
प्रबंध निदेशक
यशोदा सुपर स्पेशलिटी हास्पिटल,