हमेशा छोटे ही बने रहना चाहिए-लखनऊ विवि के दीक्षांत समारोह में गृह मंत्री////गुजरात चुनाव : प्रथम चरण में 68% मतदान, 977 उम्मीदवारों का भाग्य EVM में कैद///IIS Ust दीक्षांत समारोह में वी के सिंह ने छात्राओं को प्रदान की डिग्रियां////डॅा. महेश शर्मा ने बौधि पर्व: बौद्ध विरासत के समृद्ध उत्सव का उद्घाटन किया। ///सांसद ने किया ओपन जिम का शुभारंभ////Short-Term Courses Providing Employment to Minority -Mukhtar Abbas Naqvi ////समग्र मछली-उत्पादन 2016-17 में 114.1 लाख टन हुआ: राधा मोहन सिंह ////केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कसा राहुल पर तंज - 'बेचारे' को पहले पार्टी अध्यक्ष तो बनने दो////नरेंद्र मोदी पर हमले से आहत हुए मुलायम, - पीएम को 'नीच' कहना कहां की भाषा है////पूर्व मुख्यमंत्री नारायण राणे ने दी उद्धव ठाकरे को चेतावनी - मुंह बंद रखें
Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us

 संभल जाए आज की युवा पीढ़ी
go women love to cheat why do men cheat on their wife
women who like to cheat beautiful women cheat open
read how to catch a cheat will my husband cheat again
how to spot a cheater link click here

लेखक : -शेखर कपूर-
how to cheat on wife cheats go
read women cheat on men will my husband cheat again
how to spot a cheater link click here
dating sites for married people why do women cheat on their husbands my wife emotionally cheated on me


 
go open why do men cheat on their wife
my fiance cheated on me click read here
why do husbands cheat wife cheated what causes women to cheat
open read here looking to cheat
read how to catch a cheat will my husband cheat again
redirect what makes a husband cheat read here

 
what makes people cheat why do wife cheat on husband read
why do women cheat on their husbands website why do women cheat on their husbands
women who like to cheat beautiful women cheat open
my boyfriend cheated on me quotes reasons women cheat on their husbands what makes people cheat
redirect women who cheated read here
 जिस पीढ़ी ने देश की आजादी की लड़ाई लड़ी वो अब ना के बराबर है। जो उस वक्त बच्चे थे और जिन्होंने आजादी की लड़ाई को सिर्फ देखा उनमें से कई आज भी जीवित हैं और घने वृद्धत्व की तरह जीवन की अंतिम छाया में हैं। जिस नौजवान पीढ़ी ने आजादी के बाद जन्म लिया उसके ऊपर ही देश को संवारने, साम्प्रदायिक सौहार्द को पुष्पित और सुगंधित करने की जिम्मेदारी थी लेकिन वो इस जिम्मेदारी को ईमानदारी पूरा नहीं कर पाये और इसका कारण ही कभी गोधरा कांड, कभी समझौता एक्सप्रेस, कभी मुंबई दंगे और कभी असम दंगे के उदाहरण सामने आते रहे हैं। अब वर्तमान पीढ़ी पर यह जिम्मेदारी है कि वो देश को संवारे और साम्प्रदायिक सौहार्द को आपस में एक-दूसरे के साथ रचा-बसा दे और तभी यह देश सुरक्षित रह सकता है। सियासी स्तर पर तो देश को निराशा ही हुई है। कभी कांग्रेस में लोगों का विश्वास था लेकिन अब छोटे-छोटे राजनीतिक दल सूबाई राजनीति कर रहे हैं और परिणाम यह निकल रहा है कि देश के लोगों का विकास रूक गया है। आम आबादी का हिंदू वर्ग भी गरीबी और मुफलिसी का सामना कर रहा है तो मुसलमान भी उसका शिकार है। विकास की रसमलाई दोनों ही कौम के विशेष लोग आराम से खा रहे हैं और वे महफूज हैं।

14 और 15 अगस्त की तारीखें हिन्दुस्तान के लिए महत्व रखती हैं। 14 अगस्त आते ही हर साल पाकिस्तान में पाकिस्तान बनने का जश्न मनता है लेकिन यह दिन हिन्दुस्तान के लिए खुशी का नहीं होता है क्योंकि उसके ही हिस्से की जमीन पर धर्म के आधार पर पाकिस्तान बनाकर मुसलमानों को एक राष्ट्र अंग्रेजों ने दे दिया। 15 अगस्त का दिन भारत के लिए खुशी का रहा है क्योंकि उस दिन उसे अंग्रेजी दास्तां से मुक्ति मिल गई लेकिन इस बात का भी दुःख हिन्दुस्तान को रहा कि देश का ही एक बड़े भू-भाग की आबादी इस जश्न में शामिल नहीं थी क्योंकि वो पाकिस्तानी हो गई थी।

देश में जब भी ये दो तारीखें आती हैं तो दोनों ही मुल्क अपनी-अपनी आजादी का जश्न तो मनाते हैं लेकिन यह सत्य है कि इस जश्न में दोनों देश शामिल नहीं होते हैं। पाकिस्तान 14 अगस्त की तारीख को किस रूप में मनाता है इसके गवाह 65 साल हैं जिसमें वह अलग राष्ट्र बनने के साथ ही हिन्दुस्तान से आजादी का भी जश्न मनाता है लेकिन 15 अगस्त की तारीख को जश्न मनाते वक्त हिन्दुस्तान के लोग गमजदा भी होते हैं क्योंकि उनके साथ वो लोग नहीं होते हैं जो कभी मुहब्बत का हिस्सा हुआ करते थे लेकिन वो पाकिस्तानी हो गए।

खैर! इतिहास के इन पन्नों को अगर खोला जाए तो उसमें दो हस्तियों का सबसे अधिक महिमामंडन किया गया। एक हस्ती रहीं महात्मा गांधी जिन्हें -राष्ट्रपिता- का गौरव हासिल हो गया तो दूसरी तरफ पाकिस्तान में मोहम्मद अली जिन्ना -कायदे आजम-की उपाधि से अलकंृत किए गए। दोनों ही नेता अब दुनिया में नहीं है। एक स्वर्गवासी हैं तो दूसरे जन्नतननशीं। देश बंटवारे को इन दोनों नेताओं द्वारा स्वीकार करने का परिणाम यह निकला कि दोनों ही देश आज तक कट्टरपंथी मानसिकता से बाहर नहीं निकल पाये। पाकिस्तान में रह गए कई हिंदुओं ने उस वक्त अपनी भूमि को इसलिए नहीं छोड़ा क्योंकि वह एक हिन्दुस्तान ही था। जो मुसलमान उस वक्त हिन्दुस्तान में रह गए उन्हें हिंदुस्तान प्रिय था क्योंकि वे इसी माटी का हिस्सा थे लेकिन वे बहुसंख्यकों से अपने को असुरक्षित महसूस करते रहे। उस वक्त की युवा पीढ़ी का प्रतिनिधित्व कर रहे राजनीतिक दलों ने कभी मुस्लिम आबादी को अपने घुलाने-मिलाने की कोशिश नहीं की और परिणाम यह निकला कि आज भी चंद प्रोग्रेसिव मुसलमानों को छोड़ अधिकांश मुस्लिम आबादी अपने आप को असुरक्षित महसूस करती रही और उसका ही परिणाम निकला कि आबादी और विशेष अधिकारों के नाम पर उन्हें सियासतदारों ने छलने का काम किया। आज अगर देश में जगह-जगह दंगें होते हैं तो इसका कारण हम यही मान सकते हैं कि देश की मुस्लिम आबादी को राष्ट्रवाद और देशभक्ति के नजदीक लाने में हमारी सियासत असफल साबित हुई। अगर सियासतदारों ने तालीम और रोजगार जैसे विषयों में सभी का साथ लेकर सभी को उन्नतशील बनाने का प्रयास किया होता और इस कार्य में ईमानदारी बरती होती तो आज यह देश हिंदू और मुसलमान होने का दंश नहीं झेल रहा होता। इस सच्चाई को हमें स्वीकार करना होगा कि जब कुछ सियासतदारों को मुसलमानों के वोट चाहिए होते हैं तो वो उनके हो जाते हैं लेकिन हिंदू वोटरों के बीच जाते ही हिंदुओं के हितों की बात करते रहे हैं। परिणाम यह निकला कि देश में सियासतदारों की जगह कट्टरपंथियों ने ले ली और उसका ही परिणाम है कि आज देश साम्प्रदायिकता को खत्म नहीं कर पाया है। इस सत्य को देश की आम आबादी के हिंदुओं और मुसलमानों की वर्तमान पीढ़ी को स्वीकार करना होगा कि लोकतंत्र की मलाई चंद संपन्न लोग ही पीढ़ियां-दर-पीढ़ियां खाते चले आ रहे हैं चाहे वे हिंदू हों या मुसलमान। इसलिए वक्त की मांग यही है कि दोनों ही कौम की वर्तमान पीढ़ी इस सच्चाई को समझे और एक-दूसरे के सहयोग सेे सौहार्द की मिसालें पेश करना आंरभ करें। अगर वे ऐसा करते हैं तभी भविष्य की दोनों कौम की पीढ़ियां सुरक्षित रहेंगी।


-अपडेटेड 14 अगस्त 2012, नई दिल्ली
reason why husband cheat online why do husbands have affairs
catching a cheater how do i know if my wife cheated click
women who like to cheat beautiful women cheat open
women who like to cheat beautiful women cheat open
read how to catch a cheat will my husband cheat again
link women who want to cheat married looking to cheat