Union Minister of Health and Family Welfare Dr. Mansukh Mandaviya addresses Sessions on ‘Unlocking the Power of Digital Health’ and ‘Closing the Vaccines Gap’ at World Economic Forum (WEF) Annual Meeting, Davos//////श्रीमती मीनाक्षी लेखी ने ब्रिक्स की संस्कृति मंत्रियों की बैठक में भाग लिया////केंद्रीय मंत्री योग उत्सव मनाने में राष्ट्र के साथ शामिल हुए///अक्षय ऊर्जा को साथ जोड़ना ही ऊर्जा संक्रमण की कुंजी-सिंह/अनुराग ठाकुर ने विश्व मुक्केबाजी और तीरंदाजी टीमों का अभिनंदन किया//केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर ने ष्बीज श्रृंखला विकासष् वेबिनार की अध्यक्षता की////रक्षा सचिव और यूएई रक्षा मंत्रालय ने सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की////
Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us
सार्थक परिणाम तब प्राप्त
-सार्थक परिणाम तब प्राप्त होते हैं जब सरकार ईमानदारी से लाभार्थी के पास एक संकल्प के साथ पहुंचती है

भोपाल/नई दिल्ली--प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज गुजरात के भरूच में वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए उत्कर्ष समारोह को संबोधित किया। यह कार्यक्रम जिले में राज्य सरकार की चार प्रमुख योजनाओं के शत-प्रतिशत सैचुरेशन का उत्सव है, जो जरूरतमंद लोगों को समय पर वित्तीय सहायता प्रदान करने में मदद करेगा। इस अवसर पर गुजरात के मुख्यमंत्री भूपेंद्रभाई पटेल उपस्थित थे।

क्षेत्र की महिलाओं ने प्रधानमंत्री को एक विशाल राखी भेंट की, उनके स्वास्थ्य और लंबे जीवन की कामना की और देश में महिलाओं की गरिमा और जीवन को आसान बनाने के लिए उनके द्वारा किए गए सभी कार्यों के लिए उन्हें धन्यवाद दिया। प्रधानमंत्री ने विभिन्न योजनाओं के लाभार्थियों से बातचीत की।

एक दृष्टिबाधित लाभार्थी से बातचीत करते हुए प्रधानमंत्री ने उनकी बेटियों की शिक्षा के बारे में जानकारी ली। पिता की परेशानी को लेकर बेटी भावुक हो गई। स्पष्ट रूप से प्रभावित प्रधानमंत्री ने उन्हें बताया कि उनकी संवेदनशीलता ही उनकी ताकत है। प्रधानमंत्री ने यह भी पूछा कि उन्होंने और उनके परिवार ने ईद कैसे मनाई। उन्होंने टीका लगवाने और अपनी बेटियों की आकांक्षाओं को पोषित करने के लिए लाभार्थी को बधाई दी। प्रधानमंत्री ने कहा कि आज का ये उत्कर्ष समारोह इस बात का प्रमाण है कि जब सरकार ईमानदारी से, एक संकल्प लेकर लाभार्थी तक पहुंचती है, तो कितने सार्थक परिणाम मिलते हैं। उन्होंने क्षेत्र की विधवा बहनों द्वारा उन्हें दी गई राखी के रूप में शक्ति देने के लिए महिलाओं को धन्यवाद दिया। उन्होंने कहा कि उनकी इच्छाएं उनके लिए ढाल की तरह हैं और उन्हें और अधिक मेहनत करने के लिए प्रेरित करती हैं।
(UPDATED ON 12TH MAY 2022)