PM to launch key initiatives to ramp up the MSME sector/////भगवन्त खुबा ने एसईसीआई कार्यालय का दौरा किया //////////सौराष्ट्र, कच्छ और उत्तर गुजरात के किसान खेती बैंक से आगे बढ़े-अमित शाह //////////जी-7 समिट में पीएम मोदी से उपहार पाकर गद्गद् हुए विश्व नेता //////////मोदी को रिसीव करने एयरपोर्ट पर पहुंचे यूएई के राष्ट्रपति जायद //////////
Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us
21वीं सदी की चुनौतियों के लिए
21वीं सदी की चुनौतियों के लिए तैयार हो युवा पीढ़ी


/नई दिल्ली--केंद्रीय शिक्षा, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान ने आज ‘चुस्त कार्य संस्कृति के लिए रणनीतियाँ नए युग के रास्ते’ विषय पर आयोजित किए जा रहे 49वें आईएफटीडीओ विश्व सम्मेलन और प्रदर्शनी में समापन भाषण दिया।

इस अवसर पर श्री प्रधान ने समाज और अर्थव्यवस्था में एक प्रवर्तक के साथ-साथ एक व्यवधान कर्ता के रूप में प्रौद्योगिकी की भूमिका के बारे में जानकारी दी। उन्होंने कहा कि तेजी से बदलती हुई दुनिया को देखते हुए हमें अपने कार्यबल को एक समग्र कौशल रणनीति के माध्यम से 21वीं सदी की चुनौतियों के लिए तैयार करना चाहिए।

क्षमता निर्माण के बारे में उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सभी क्षेत्रों में क्षमता निर्माणपर पूरा जोर दिया जा रहा है। उन्होंने क्षमता निर्माण में श्रेष्ठ प्रथाओं का अवलोकन करने और विभिन्न संस्थाओं के बीच तालमेल का सृजन करने में भारतीय क्षमता विकास आयोग की भूमिका पर भी प्रकाश डाला।
(UPDATED ON 20TH MAY 2022)
----------------------