Visva Bharati University convocation: PM Modi calls Tagore a global citizen////Gadkari instructs officials to speed up Yamuna Action Plan Projects///Give up single use of Plastic, adopt a Green Good deed every day”: Dr. Harsh Vardhan///Inter-State Council Standing Committee completes its deliberations on Punchhi Commission report///कश्‍मीर में रोजा के सहरी वक्‍त आतंकियों ने मौत के घाट उतारा, गला कटा शव घर के पास फेंका//Social service promotes integration & helps in cementing bonds between people: Vice President///कैराना उपचुनाव: RLD ही नहीं बीजेपी भी मांग रही चौधरी साहब के नाम पर वोट////महबूबा मुफ्ती ने पाकिस्तान को चेताया, कहा- रमजान में युद्धविराम का उल्लंघन बर्दाश्त नहीं///15th Finance Commission constitutes panel for health sector///PM Modi unveils projects of Rs 27,000 cr in Jharkhand////कैराना उपचुनाव : लोकदल का रालोद पर गंभीर आरोप, कहा- कंवर हसन को आठ करोड़ में खरीदा///After Kathua, Unnao, new MHA division for women’s safety///गणेशी लाल ओडिशा और राजशेखरन मिजोरम के राज्यपाल नियुक्त////Blast at Indian restaurant in Canada; 15 injured////JAIPUR-कांग्रेसियों में जमकर चले लात-घूंसे, राष्ट्रीय प्रवक्ता के फाड़ दिए कपड़े///दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे के तैयार हिस्से पर होगा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का रोड शो///
Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us

Detailed Discussion Forum
मेहुल चोकसी की कंपनी को पी. चिदंबरम ने पहुंचाया था फायदा


नई दिल्ली : बीजेपी ने आज सोमवार को कांग्रेस पर बड़ा हमला बोलते हुए देश में हो रहे बैंकिंग घोटालों पर यूपीए सरकार पर सवालिया निशान लगाए हैं. बीजेपी के वरिष्ठ नेता और केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि 16 मई, 2014 को यूपीए के वित्त मंत्री ने 7 कंपनियों को गोल्ड स्कीम में एंट्री दी थी. इनमें एक कंपनी मेहुल चोकसी की गीतांजलि भी थी. उन्होंने सवाल किया कि पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम बताएं कि किस के दवाब में उन्होंने इन कंपनियों को नियमों से परे जाकर फायदा पहुंचाया था.
रविशंकर प्रसाद ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम से सवाल किया है कि कांग्रेसी नेता बताएं कि सरकार की गोल्ड स्कीम (80:20 स्कीम) के तहत उन्होंने सात निजी कंपनियों को फायदा पहुंचाया था, जिनमें मेहुल चोकसी की कंपनी गीताजंलि भी शामिल है. प्रसाद ने कहा कि 2013 में 80:20 स्कीम लॉन्च की गई थी. इसको नवंबर 2014 में फिर से लाया गया था. 16 मई, 2014 को जिस दिन इस स्कीम के परिणामों की घोषणा होनी थी, तत्कालीन वित्त मंत्री ने 7 निजी कंपनियों को इस स्कीम में शामिल किया था. उन्होंने कहा कि पी. चिदंबरम का इस कंपनियों पर सीधा आशीर्वाद था. उन्होंने आरोप लगाया कि तथाकथित अर्थशास्त्री प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की देखरेख में ही देश की बैंकिंग व्यवस्था के साथ खिलवाड़ किया गया था.
बीजेपी नेता ने आरोप लगाया कि राहुल गांधी समेत कांग्रेस के तमाम बड़े नेता बिना होमवर्क किए ही सरकार पर सवालों की बौछार कर देते हैं. उन्होंने कहा कि बीजेपी के कार्यकाल में जितने भी लोन दिए गए हैं उनमें अभी तक एक भी एनपीए नहीं हुआ है. जितने भी मामले सामने आ रहे हैं वे सब कांग्रेस के 10 साल के कार्यकाल के दौरान हुए थे. (Updated on March 5th, 2018)

========