At least 58 dead, 70 injured in Amritsar train tragedy///Modi and Kovind condole loss of lives in Amritsar train accident///Punjab train tragedy: Railway Minister Piyush Goyal returning India///The Vice President of India calls on His Majesty, King of the Belgians///PM visits Shirdi, Maharashtra; attends valedictory function of centenary celebration of ShriSaibaba////Prime Minister Narendra Modi burns Ravana effigy in Delhi////BJP MP from Begusarai Bhola Singh dies at Delhi hospital///
Home | Latest Articles | Latest Interviews |  Past Days News  | About Us | Our Group | Contact Us
दागी विधायकों और सांसदों के आपराधिक मामले स्पेशल कोर्ट में सुने जाएंगे

इलाहाबाद: इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सोमवार को कहा कि एक अनुमान के मुताबिक, राज्य में सांसदों और विधायकों के खिलाफ करीब 800-900 आपराधिक मामले लंबित हैं और उम्मीद है कि ये सभी मामले 15 दिन के भीतर विशेष अदालत को स्थानांतरित कर दिए जाएंगे. दो न्यायाधीशों की पीठ ने कहा कि इस राज्य के निर्वाचित प्रतिनिधियों के खिलाफ 500 से अधिक आपराधिक मामलों को विशेष अदालत (सांसद/विधायक) को स्थानांतरित किया जाता है. विशेष अदालत का गठन सांसदों/विधायकों के खिलाफ आपराधिक मामलों के त्वरित निपटान के लिए किया गया है.

मुख्य न्यायाधीश डी.बी. भोसले और न्यायमूर्ति यशवंत वर्मा की पीठ ने जौनपुर के सूरज कुमार यादव द्वारा दायर एक जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए यह टिप्पणी की. यादव ने गोसाईगंज सीट से भाजपा विधायक इंद्र प्रताप तिवारी उर्फ खाबू के खिलाफ आपराधिक मामले का जल्द निपटान करने का अनुरोध करते हुए यह जनहित याचिका दायर की है.

अदालत ने कहा कि सांसदों/विधायकों के खिलाफ लंबित आपराधिक मामलों का त्वरित निपटान करने के हाईकोर्ट के आदेश का अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए एक विशेष अदालत का पहले ही गठन किया जा चुका है जो इलाहाबाद में काम कर रही है और इस संबंध में प्रशासनिक पक्ष को लेकर विभिन्न निर्देश जारी किए गए हैं. मामले की अगली सुनवाई दो सप्ताह बाद की जाएगी.(updated on October 8th, 2018)